शाओमी के स्मार्टफोन में होगा नेविगेशन सिस्टम,मेक इन इंडिया के तहत रोजगार

पहली बार स्वदेशी नेविगेशन सिस्टम NavIC का इस्तेमाल करने वाली शाओमी भारत की पहली  स्मार्टफोन निर्माता कंपनी बनने वाली है। कंपनी के सीईओ मनु कुमार जैन ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक तस्वीर शेयर की है, जिसमें वह इसरो के चेयरमैन डॉ. के शिवन को रेडमी के20 प्रो देते हुए नजर आ रहे हैं। तो माना जा रहा है कि कंपनी उनके फोन को Redmi K20 Pro से बदलना चाहती है। इसी के साथ कंपनी जल्द ही अपने सभी मोबाइल में इस नेविगेशन सिस्टम का सपोर्ट देगी।
मनु कुमार जैन ने तस्वीर में डॉ. के शिवन की शर्ट से एक फोन बाहर निकला हुआ दिखा। इस तस्वीर में डॉ. के शिवन की जेब में सैसमंग गैलेक्सी नोट 8 को स्पॉट किया गया है। कंपनी उनके डिवाइस को के20 प्रो से चेंज करना चाहती है। साथ ही इस फोन में NavIC नेविगेशन सिस्टम भी मौजूद हो सकता है। हालांकि, कंपनी ने अब तक साफ नहीं किया है कि रेडमी के20 प्रो में इस सिस्टम का सपोर्ट दिया गया है या नहीं।
हाल ही में क्वालकॉम ने तीन नए प्रोसेसर स्नैपड्रैगन 720जी, 662 और 460 लॉन्च किए थे। इन सभी चिपसेट में मेक इन इंडिया के तहत बनाया गया NavIC नेविगेशन सिस्टम का सपोर्ट दिया गया है। आपको बता दें कि इसरो ने ही इस खास सिस्टम को तैयार किया है। NavIC नेविगेशन सिस्टम जीपीएस की तुलना में ज्यादा सटीक जानकारी देता है।
यह यूजर्स को इस सिस्टम से पांच मीटर तक की एक्युरेट पोजीशन की जानकारी मिलेगी। आपको बता दें कि 1999 कारगिल युद्ध के दौरान जब अमेरिका ने भारत को पाकिस्तान की लोकेशन से संबंधित जानकारी देने से मना कर दिया था, तो भारत को इस सिस्टम का जरूरत महसूस हुई थी। इसके बाद से ही NavIC नेविगेशन सिस्टम को बनाने की प्रक्रिया तेजी से शुरू हो गई थी।

Related Articles