जम्मू-कश्मीर : अलगाववादी नेता यासीन मलिक को पुलिस ने किया गिरफ्तार

0

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी नेता मोहम्मद यासीन मलिक को आज गिरफ्तार कर लिया गया। मलिक को उस समय गिरफ्तार कर लिया गया, जब वह एक विरोध जुलूस का नेतृत्व कर रहे थे। खानयार, नौहट्टा, रैनावारी, एम आर गंज, सफा कदल, मैसुमा और क्रालखुद ऐसी जगह हैं जहां प्रतिबंध लगाया गया है।

एक समूह का नेतृत्व करने के लिए सामने आए

दो दिन तक भूमिगत रहने के बाद मलिक ऊपरी मैसुमा इलाके में प्रदर्शकारियों के एक समूह का नेतृत्व करने के लिए सामने आए और शहर में स्थित भारत और पाकिस्तान से संबंधित संयुक्त राष्ट्र सैन्य पर्यवेक्षक समूह (यूएनएमओजीआईपी) के मुख्यालय की तरफ बढ़ने लगे।

पुलिस ने मलिक को गिरफ्तार कर लिया है

पुलिस ने मलिक को गिरफ्तार कर लिया है और उन्हें कोठीबाग पुलिस थाने में रखा गया है। अलगाववादियों ने कश्मीर में मानवाधिकारों के कथित उल्लंघन को रेखांकित करने के लिए श्रीनगर स्थित यूएनएमजीआईपी मुख्यालय तक एक विरोध जुलूस निकालने का आह्वान किया था। मीरवाइज उमर फारूक और सयद अली गिलानी, और दो अन्य वरिष्ठ अलगाववादी नेताओं को प्रदर्शन में शामिल होने से रोकने के लिए उन्हें घर में नजरबंद कर दिया गया है।

10 दिसंबर को वार्षिक मानवाधिकार दिवस मनाया जा रहा है

10 दिसंबर को वार्षिक मानवाधिकार दिवस मनाया जा रहा है। जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के अध्यक्ष मोहम्मद यासीन मलिक भूमिगत हो गए हैं। प्रशासन ने पहले ही मीरवाइज उमर फारूक को घर में नजरबंद कर रखा है जबकि सैयद अली गिलानी लगभग एक साल से घर में नजरबंद हैं।

loading...
शेयर करें