DHFL मामले में यस बैंक फाउंडर की बीवी, बेटी को मिली ज़मानत

नई दिल्ली : सीबीआई की विशेष अदालत ने 4 सितंबर को यस बैंक के फाउंडर राणा कपूर की पत्नी और उनकी बेटी को DHFL मामले में अंतरिम जमानत दे दी है।  इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता देंन इन लोगों पर धोखाधड़ी के संबंध में मुकदमा दर्ज है। इसी लिए इन्हें गिरफ्तार किया गया था।

DHFL मामले में रिश्वत लेने का है आरोप

इस कड़ी में  पीटीआई के मुताबिक, अदालत ने दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड से जुड़े मामले में राणा कपूर की पत्नी और बेटी को जमानत दे दी है। इस कड़ी में जानकारों के मुताबिक हाल ही में सीबीआई की तरफ से दायर सप्लीमेंट्री चार्जशीट में उन्हें आरोपी बनाया गया था, लेकिन इस मामले में दोनों को कभी गिरफ्तार नहीं हो पाई थी। इस कड़ी में अदालत ने चार्जशीट पर खुद संज्ञान लेते हुए आरोपी को तलब किया था जिसके बाद आज दोनों को अदालत में पेश किया गया। हालाँकि, गिरफ़्तारी के कुछ देर बाद ही स्पेशल जज एसयू वडगांवकर ने ज़मानत की मंजूरी दे दी।

इस कड़ी में सीबीआई के अनुसार, कपूर, जो प्रवर्तन निदेशालय द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद न्यायिक हिरासत में हैं, उनके परिवार को दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेडके डिबेंचर में यस बैंक के 3,700 करोड़ रुपए के निवेश के लिए रिश्वत मिली थी। सीबीआई ने दावा किया है कि दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेडने बदले में कपूर को उनकी पत्नी और बेटियों की एक फर्म को लोन के रूप में 600 करोड़ रुपए की रिश्वत दी थी।

यह भी पढ़ें :RIL के शेयरों में आये उछाल से मुकेश अंबानी की नेटवर्थ हुई लगभग100 अरब डॉलर

Related Articles