योगी ने दिए पूरी पारदर्शिता के साथ धान खरीद सुनिश्चित करने के निर्देश दिए

उन्होंने कहा है कि किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य के अनुसार ही भुगतान सुनिश्चित किया जाए. उन्होंने प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रों में धान क्रय केन्द्रों को प्रभावी ढंग से कार्यशील रखने के निर्देश भी दिए हैं

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी क्रय केन्द्रों पर पूरी पारदर्शिता के साथ धान खरीद की कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं.

उन्होंने कहा है कि किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य के अनुसार ही भुगतान सुनिश्चित किया जाए. उन्होंने प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रों में धान क्रय केन्द्रों को प्रभावी ढंग से कार्यशील रखने के निर्देश भी दिए हैं

मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक बैठक में धान क्रय केन्द्रों के संचालन की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे. उन्होंने कहा कि धान खरीद की नियमित माॅनीटरिंग की जाए. वरिष्ठ अधिकारी धान क्रय केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण करते हुए खरीद प्रक्रिया को मौके पर परखें. उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि किसान को अपनी उपज बेचने में कोई असुविधा न हो.

बैठक में प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद वीना कुमारी मीना ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि 50 कुन्तल तक धान का विक्रय करने वाले किसानों की धान खरीद को क्रय केन्द्रों पर प्राथमिकता दिए जाने के निर्देश दिए गए हैं. धान क्रय केन्द्रों के लिए नोडल अधिकारी की तैनाती भी की गई है. नोडल अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि किसानों को अपनी उपज बेचने में कोई कठिनाई न हो और उन्हें न्यूनतम समर्थन मूल्य के अनुसार भुगतान किया जाए.

इस अवसर पर मुख्य सचिव आर के तिवारी, अपर मुख्य सचिव एमएसएमई एवं सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस पी गोयल, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव महिला कल्याण एवं बाल विकास व पुष्टाहार एस राधा चौहान, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे.

यह भी पढ़े: अनुराग को घायल करने वाली पायल आरपीआई में हुई शामिल

Related Articles