IPL
IPL

‘चौरी चौरा शहीद स्मारक’ को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए योगी सरकार ने दी मंजूरी

लखनऊ : उत्तर प्रदेश सरकार (Government of Uttar Pradesh) ने गोरखपुर में ‘चौरी चौरा शहीद स्मारक’ (Chauri Chaura Martyr Memorial) को एक हेरिटेज टूरिस्ट स्पॉट के रूप में विकसित करने की योजना बनाई है। राज्य सरकार ने ‘चौरी चौरा’ (Chauri Chaura) की घटना के 100 साल पूरे होने पर वार्षिक समारोह आयोजित करने का निर्णय लिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) के नेतृत्व वाली राज्य सरकार ने आजादी के 75 वर्षों के मद्देनजर साल भर चलने वाले शताब्दी कार्यक्रम आयोजित करने की घोषणा की है और ‘चौरी चौरा शहीद स्मारक’ को हेरिटेज टूरिस्ट स्पॉट के रूप में विकसित करने की योजना बनाई है। मुख्यमंत्री ने युवा पीढ़ी के मन में देशभक्ति की भावना जगाने और देश की आजादी के लिए बलिदान देने वाले स्वतंत्रता सेनानियों का आभार व्यक्त करने के उद्देश्य से कार्यक्रम की योजना बनाने पर जोर दिया है।

उत्तर प्रदेश सरकार का उद्देश्य युवाओं में देशभक्ति की भावना जगाना और यह सुनिश्चित करना है कि नई पीढ़ी स्वतंत्रता प्राप्त करने के लिए किए गए बलिदान से संवेदनशील रहे। इसलिए यह समारोह भव्य तरीके से आयोजित किए जाएंगे।

स्वतंत्रता के लिए अपने पूर्वजों के बलिदान को स्मरण रखना चाहिए

सीएम योगी (CM Yogi) ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया है कि युवाओं को घटनाओं के सभी विस्तृत इतिहास को बताया जाए। उन्होंने युवा पीढ़ी से अपने राष्ट्र के प्रति समर्पण की भावना विकसित करने का भी आग्रह किया और कहा कि उन्हें स्वतंत्रता के लिए अपने पूर्वजों के बलिदान को महत्त्व देना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा, “इस देश को अपना बनाएं, उन सपनों को सजाएं, जिनके लिए स्वतंत्रता सेनानियों ने बलिदान दिया। जिस देश में आप रह रहे हैं, उसके लिए जुनून और समर्पण विकसित करें।”

आपको बता दें कि चौरी चौरा (Chauri Chaura) की घटना 4 फरवरी, 1922 को गोरखपुर जिले के चौरी चौरा में हुई थी। अंग्रेजों के क्रूर शासन के विरोध में लोगों का सामूहिक प्रदर्शन हुआ था, जिसके जवाब में पुलिस ने उन पर गोलियां चलाईं। इस घटना में तीन नागरिकों और 23  पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी। अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी ने इस घटना से आहत होकर असहयोग आंदोलन को राष्ट्रीय स्तर पर रोक दिया था।

इसे भी पढ़े : New agricultural laws : पंजाब के कांग्रेस सांसदों ने संसद परिसर में किया प्रदर्शन

Related Articles

Back to top button