SC की फटकार के बाद योगी सरकार का बड़ा फैसला

पिछले साल कांवड़ संघों ने सरकार के साथ बातचीत के बाद खुद ही यात्रा स्थगित कर दी थी। इस बार भी सरकार ने संघों की सहमति से ही यह फैसला लिया है।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने Supreme Court की फटकार के बाद कांवड़ यात्रा (kanwar yatra) रद्द कर दी है। सरकार ने कांवड़ संघों से बातचीत के बाद इस साल भी यात्रा रद्द करने का फैसला किया है। एक दिन पहले ही देश की शीर्ष अदालत ने योगी सरकार से अपने फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए कहा गया था।

पिछले साल कांवड़ संघों ने सरकार के साथ बातचीत के बाद खुद ही यात्रा स्थगित कर दी थी। इस बार भी सरकार ने संघों की सहमति से ही यह फैसला लिया है। मुख्यमंत्री ने अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी और पुलिस महानिदेशक मुकुल गोयल को कांवड़ यात्रा के मद्देनजर दूसरे राज्यों से बातचीत करने के निर्देश दिए थे।

हालांकि, यूपी सरकार चाहती थी कि इस बार कांवड़ यात्रा (kanwar yatra) पर प्रतिबंध न लगे। बल्कि कोविड प्रोटोकॉल के तहत यात्रा निकाली जाए। वहीं उत्तराखंड सरकार ने बाहर से आने वाले कांवड़ियों के राज्य में प्रवेश पर रोक लगा दी है।

धरी की धरी रह गईं यूपी सरकार की तैयारियां

यूपी सरकार कावड़ यात्रा को लेकर अपनी तैयारियों में जुटी थी। कोरोना संक्रमण के चलते भी सरकार पीछे नहीं हट रही थी। लगातार लखनऊ से निर्देश दिए जा रहे थे की कांवड़ यात्रा निकाली जाएगी। अधिकारी उसकी तैयारी पूरी कर लें।

यह भी पढ़ें: शायर मुनव्वर राना का तंज, अगर योगी दोबारा बने सीएम तो छोड़ दूंगा यूपी

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles