UP में कोरोना काल में ऑक्सीजन की कमी से कितनी मौत हुई ? योगी सरकार ने दी ये जानकारी

ऑक्सीजन की कमी से किसी भी व्यक्ति की मौत की सूचना नहीं

UP सरकार ने दावा किया है की प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी से किसी भी व्यक्ति की मौत की सूचना नहीं है. विधान परिषद में सूबे के स्वास्थ्य मंत्री ने यह दावा किया है.

कांग्रेस MLC दीपक सिंह ने पूछा था सवाल

प्रश्नकाल के दौरान कांग्रेस MLC दीपक सिंह द्वारा पूछे गए एक सवाल पर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा “प्रदेश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी से किसी भी व्यक्ति की मौत की सूचना नहीं है।”

ऑक्सीजन की कमी से मौत का जिक्र नहीं

उत्तर- प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि अस्पताल में भर्ती मरीज की मौत होने पर उसका मृत्यु प्रमाण पत्र डॉक्टर के माध्यम से लिखकर आता है. प्रदेश में अभी तक कोविड-19 के कारण जिन 22915 मरीजों की मृत्यु हुई है उनमें से किसी के भी मृत्यु प्रमाण पत्र में कहीं भी ऑक्सीजन की कमी से मौत का जिक्र नहीं है.

यह भी पढ़ें- UP चुनाव से पहले योगी सरकार ने खोला पिटारा, किया ये बड़ा ऐलान

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles