एक्शन में योगी सरकार, दोनों तरफ से बंद हुआ गाजीपुर बॉर्डर, धारा 144 लागू

गाजियाबाद: 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुए हिंसा के बाद से योगी सरकार एक्शन में नजर आ रही है। एक के बाद एक आदेश दे रही है। दिल्ली-यूपी गाजीपुर बॉर्डर (Ghazipur border) पर दो महीने से अपनी मांगो को लेकर धरने पर बैठे किसानों के आंदोलन को सरकार अब जबरन हटाने के कोशिश में लगी हुई है, इसके लिए सीएम योगी ने सभी डीएम और एसपी को आदेश दिया है। गाजीपुर बॉर्डर (Ghazipur border) पर पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 133 के तहत किसानों को नोटिस पकड़ा दिया है साथ ही वहां पर धारा 144 लागू कर दी है।

इस वक्त पुरे देश की नजर दिल्ली-यूपी गाजीपुर बॉर्डर पर टिकी हुई है क्योंकि आज योगी सरकार जबरन किसानों के धरनो को खत्म करने वाली है। सीएम योगी ने डीएम और एसपी को धरना खत्म करवाने का देश दिया है। इसके बाद गाजियाबाद के डीएम ने आदेश जारी कर सभी प्रदर्शनकारियों को धरना स्थल खाली करने को कहा है। गाजीपुर बॉर्डर पर पुलिस ने धारा 144 लगा दी है साथ ही विरोध स्थल पर सुरक्षा बलों की भारी तैनाती भी कर दी गई है।

ये भी पढ़ें : ICU में भर्ती युवती से गैंगरेप, अस्पताल के दो कर्मचारियों पर लगा आरोप

133 के तहत पकड़ाया नोटिस

गाजियाबाद पुलिस ने गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों को सीआरपीसी की धारा 133 के तहत नोटिस पकड़ा दिया है। प्रदर्शनकारियों को हटने के लिए कहा गया है। जिला प्रशासन ने उनसे तुरंत सड़क खाली करने को कहा है। दोनों तरफ से गाजीपुर बॉर्डर को सील कर दिया गया है। ट्रैफिक पुलिस ने लोगों को गाजीपुर के रास्ते पर जाने से रोक रही कहा कि दूसरे रास्ते से जाए। पुलिस ने ट्रैफिक को रोड नंबर 56, अक्षरधाम और निजामुद्दीन के लिए डायवर्ट कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें : नरेश टिकैत ने कहा-आज रात खत्म होगा आंदोलन, राकेश टिकैत हुए भावुक

ट्रैफिक पुलिस ने NH-9, NH-24 से से न जाने की सलाह दी है। गाजीपुर बॉर्डर पर तैनात प्रीत विहार के एसीपी वीरेंद्र पुंज का कहना है कि किसानों को अपने आप गाजीपुर बॉर्डर खाली कर देना चाहिए। हमने तो शांति की अपील पहले भी की थी, आज भी कर रहे हैं।

Related Articles