योगी सरकार ने पेश किया 5 लाख 50 हज़ार करोड़ का बजट, छात्रों के लिए ख़ुशख़बरी

योगी आदित्यनाथ के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना आज यानि सोमवार को योगी सरकार का पांचवां और इस कार्यकाल का आखिरी बजट पेश किया।

लखनऊ: योगी सरकार ने अपने कार्यकाल का अंतिम बजट पेश कर दिया हैं, योगी आदित्यनाथ के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना आज यानि सोमवार को योगी सरकार का पांचवां और इस कार्यकाल का आखिरी बजट पेश किया। उन्होंने इन पंक्तियों के साथ बजट की घोषणा की..यकीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट भी लेकर चिराग जलता है… 5 लाख 50 हज़ार 270 करोड़ 78 लाख के इस बजट में 27 हजार 598 करोड़ 40 लाख रुपये की नई योजनाएं शामिल की गई हैं।

अगले वर्ष विधानसभा चुनाव से पहले किसानों, युवाओं, महिलाओं व श्रमिकों के साथ सभी वर्गों को साधने का यह योगी सरकार के पास आखिरी मौका था, अब देखना यह होगा कि इस बजट के बाद प्रदेश की जनता योगी सरकार से कितना संतुष्ट हो पाती है। इस बजट के बाद वित्त मंत्री ने बताया कि पिछले साल के मुकाबले इस बार के बजट में 7.5 फीसदी का इजाफा किया गया है, जिससे प्रदेश में एक बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा।

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा, 2018-19 का बजट औद्योगिक विकास को समर्पित था। वहीँ 2019-20 का बजट महिलाओं के विकास को समर्पित था। और अब 2021-22 का बजट समावेशी विकास पर केंद्रित है। सुरेश खन्ना ने कहा कि प्रदेश में 1 हजार करोड़ की संपत्ति भूमाफिया के कब्जे से मुक्त कराई गई है। साथ ही उन्होंने ने कहा, किसानों की आय 2022 तक दोगुना करने का हमारा लक्ष्य है।

यह भी पढ़े: शेयर बाज़ार की शुरुआत गिरावट से, Sensex 420 अंक टूटा, Nifty 14900 के नीचे

Related Articles

Back to top button