योगी सरकार ने की शानदार पहल, इसके जरिए गरीब बच्चे भी बनेंगे अधिकारी

लग-अलग इलाको में रहकर तैयारी करने वाले और गरीब तबके के जो होनहार छात्र है उनके लिए योगी सरकार ने अच्छी खबर दी है।

नई दिल्ली: अलग-अलग इलाको में रहकर तैयारी करने वाले और गरीब तबके के जो होनहार छात्र है उनके लिए योगी सरकार ने अच्छी खबर दी है। जो स्टूडेंट शहरों में प्रतियोगी परीक्षाओं ( Competitive examinations ) की तैयारी करने के लिए नहीं जा सकते, उनको निशुल्क कोचिंग ( Free Coaching)  दिलाने की व्यवस्था उत्तर प्रदेश सरकार ( Government of Uttar Pradesh ) ने की है।

आपको बता दे कि 16 फरवरी से इसकी शुरुआत होने जा रही है। प्रदेश के हर मंडल में अभ्युदय कोचिंग शुरु हो रही है। यह कोचिंग, तैयारी में रुचि रखने वाले बच्चों के लिए वरदान साबित होगी।

नि:शुल्क कोचिंग की व्यवस्था

सिविल सर्विस एग्जाम (Civil Service Exam) की तैयारी के लिए गरीब बच्चों को नि:शुल्क कोचिंग वाली इस योजना का पंजीकरण 10 फरवरी से शुरू होगा, जबकि योजना का शुभारंभ बसंत पंचमी यानी 16 फरवरी को होगा। मुख्यमंत्री के निर्देश पर मुख्य सचिव आरके तिवारी ने ‘मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना’ के संचालन संबंधी आदेश जारी कर दिए हैं।

students

अभ्युदय योजना की होगी शुरुआत

सरकार की अभ्युदय योजना ( Abhyudaya scheme )  में गरीब और निर्बल छात्रों को फ्री में कोचिंग दी जाएगी. उत्तर प्रदेश के प्रतिभाशाली छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उच्‍च स्‍तरीय मार्गदर्शन तथा परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण उपलब्‍ध कराया जाएगा।

इसके अन्‍तर्गत संघ लोक सेवा आयोग ( Union Public Service Commission ) द्वारा आयोजित परीक्षा के अलावा उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग, अधीनस्‍थ सेवा चयन आयोग, ( Subordinate Services Selection Commission ) अन्‍य भर्ती बोर्ड और संस्‍थाओं द्वारा आयोजित परीक्षाएं शामिल हैं।

इस नि:शुल्क कोचिंग सेंटर से अब उन बच्चों का भी अधिकारी बनने का सपना पूरा होगा जिनका परिवार गरीब है, प्राइवेट कोचिंग का फीस नही दे पाते है। इसकी शुरुआत कर के योगी सरकार ने बहुत ही शानदार पहल की है।

सीएम योगी ने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं, जिनमें सिविल, पीसीएस, नीट,जेईई, एनडीए, पीओ, एसएससी,टीईटी, बीएड और अन्य परीक्षाएं शामिल हैं, के लिए ग्रामीण इलाकों और निर्बल आय के परिवारों के बच्चों को इनकी गुणवत्तापरक तैयारी सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से ये योजना मां सरस्वती की आराधना के खास दिन, बसंत पंचमी यानी 16 फरवरी को लागू की जाएगी।

यह भी पढ़ें: गहना वशिष्ठ हुई गिरफ्तार, एडल्ट वीडियो बनाने का आरोप

Related Articles

Back to top button