IPL
IPL

योगी ने सपा को लिए आड़े हाथ, कहा- ‘ईद में जबरदस्ती गौ हत्या कराई जाती हैं’

CM ने कहा कि मैं ममता दीदी से कहना चाहता हूं कि कभी उत्तर प्रदेश में एक सरकार थी जो अयोध्या में राम भक्तों पर गोली चलाती थी, उस सरकार का हश्र आपने देखा कि क्या हो गया है।

पश्चिम बंगाल: पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव को लेकर बिगुल बज चुका है। बंगाल में पहले तरण के लिए 27 मार्च से चुनाव होना है। इसकी को लेकर सभी पार्टियां अपना पूरा दमखम लगाए हुए हैं। बंगाल में BJP के कई वरिष्ठ नेता चुनावी रैलियां कर रहे हैं। इसी सिलसिले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बंगाल में हैं।

पश्चिम बंगाल के माल्दा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ममता सरकार पर जमकर निशाना साधा। इसके अलावा योगी ने समाजवादी पार्टी को भी आड़े हाथ लिया। रैली में भाषण देते हुए CM योगी ने कहा कि आज जब बंगाल में अराजकता और बदहाली दिखाई देती हैं तो पूरे देश को पीड़ा होती है। आज बंगाल में गरीबी और बदहाली है। बंगाल में केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को लागू नहीं होने दिया जाता है।

जबरदस्ती कराई जाती हैं गौ हत्याएं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज बंगाल में सत्ता प्रायोजित अपराध और आतंकवाद न केवल यहां की सुरक्षा के सामने संकट खड़ा कर रहा है बल्कि देश की सुरक्षा को भी चुनौती देता दिखाई देता है। आज बंगाल में दुर्गापूजा पर प्रतिबंध लगाया जाता है। ईद में जबरदस्ती गौ हत्याएं कराई जाती हैं।

CM ने कहा कि मैं ममता दीदी से कहना चाहता हूं कि कभी उत्तर प्रदेश में एक सरकार थी जो अयोध्या में राम भक्तों पर गोली चलाती थी, उस सरकार का हश्र आपने देखा कि क्या हो गया है। इस बार बंगाल में TMC सरकार की बारी है। जो राम द्रोही हैं उनका भारत और बांगाल में कोई काम नहीं है।

उन्होंने कहा कि जब प्रधानमंत्री पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के पीड़ित प्रताड़ित हिंदुओं, सिखों, बौद्धों, जैनियों और ईसाईयों संरक्षण और सुरक्षित ठिकाना देने के लिए कानून बनाते हैं और उसे भारत में लागू करते हैं तो बंगाल में हिंसा क्यों होती है? ये हिंसा सत्ता प्रायोजित क्यों है।जब पीड़ित और प्रताड़ित मानवता को शरण देने की बात होती है तो यहां की सरकार विरोध करती है। जब घुसपैठियों को बाहर करने की बात होती है तो यहां की सरकार तिलमिला जाती है। यहां की सरकार घुसपैठियों के साथ है उसे यहां की जनता के साथ कुछ लेना देना नहीं।

यह भी पढ़ें: Panchayat Election: ग्राम प्रधान और BDC के लिए कौन सा गांव हुआ आरक्षित, यहां देख सकेंगे लिस्ट

Related Articles

Back to top button