योगी ने छठ पर्व को लेकर समीक्षा बैठक में कहा, कोविड-19 से बचाव ही उपचार, पूरी तरह रहें सक्रिय

छठ पर्व के मद्देनजर योगी ने कहा, कोविड-19 से बचाव ही उपचार है, कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की व्यवस्था

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छठ पर्व के मद्देनजर कोविड-19 को लेकर पूरी सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने कहा ‘कोरोना वायरस की चेन को तोड़ने में मेडिकल टेस्टिंग की महत्वपूर्ण भूमिका है’।

मुख्यमंत्री योगी का बयान

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि इस सम्बन्ध में थोड़ी लापरवाही भी भारी पड़ सकती है। उन्होंने संक्रमण से बचाव तथा उपचार की व्यवस्था को पूरी सक्रियता से संचालित किये जाने के निर्देश दिए हैं।

अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा

योगी ने अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा करते हुये कहा कि छठ पर्व को देखते हुए पूरी सावधानी बरती जाए। उन्होंने पर्व के दौरान घाटों पर साफ-सफाई की प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। कोविड-19 की चेन को तोड़ने में मेडिकल टेस्टिंग की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने टेस्टिंग कार्य को पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन आरटीपीसीआर विधि से 65 से 75 हजार टेस्ट तथा रैपिड एन्टीजन विधि से 90 हजार से एक लाख 10 हजार टेस्ट किए जाएं।

कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की व्यवस्था

सीएम ने कहा कि कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की व्यवस्था को प्रभावी बनाए रखा जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि इंटीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर पूरी सक्रियता से कार्य करें। प्रत्येक जनपद में जिलाधिकारी तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा प्रतिदिन सुबह कोविड अस्पताल में तथा शाम को इंटीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर में नियमित तौर पर समीक्षा बैठक सम्पन्न की जाए।

बचाव ही उपचार

मुख्यमंत्री ने कहा कि जब तक कोविड-19 की कोई कारगर दवा अथवा वैक्सीन उपलब्ध नहीं हो जाती, तब तक बचाव ही उपचार है। इसे ध्यान में रखते हुए लोगों को संक्रमण से सुरक्षित रखने के बारे में निरन्तर जागरूक किया जाए। इसके लिए विभिन्न प्रचार माध्यमों के साथ-साथ पब्लिक एड्रेस सिस्टम के द्वारा लोगों को जानकारी दी जाए।

कॉलेजों में उपचार की व्यवस्था

सीएम ने कहा कि सभी कोविड चिकित्सालयों तथा मेडिकल कॉलेजों में उपचार की व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त रखा जाए। इन अस्पतालों में बेड्स की पर्याप्त व्यवस्था रखी जाए। उन्होंने चिकित्सालयों में उपलब्ध संसाधनों की नियमित समीक्षा किए जाने के निर्देश भी दिए हैं।

यह भी पढ़े:जम्मू-कश्मीर पर कांग्रेस का दोहरा चरित्र देश की अखंडता के लिये खतरा : CM योगी

यह भी पढ़े:बिहार के शिक्षा मंत्री मेवालाल ने 1 बजे संभाला विभाग और 3 बजे दे दिया इस्तीफ, नीतीश से आधे घंटे चली मीटिंग

Related Articles

Back to top button