युवक ने किया लोहे की रॉड से किया हमला, साली की हुई मौत, पत्नी घायल 

उत्तर प्रदेश:लखनऊ में चौक थाना क्षेत्र के यहियागंज निवासी रऊफ की 25 वर्षीय बेटी शामीन और अजरीन पर उनके दामाद इरफान ने हमला कर दिया। हमले में साली शामीन की बलरामपुर अस्पताल में मौत हो गई जबकि पत्नी की हालत गंभीर है। इरफान को पुलिस ने देर रात को गिरफ्तार कर लिया।पुलिस के मुताबिक, पत्नी और साली ने रुपये देने से मना किया तो उसने जानलेवा हमला कर दिया। प्रभारी निरीक्षक चौक विश्वजीत सिंह के मुताबिक, अस्तबल यहियागंज निवासी रऊफ , पत्नी साबरा तीन बेटियों और तीन बेटों के साथ रहते हैं। वे जल संस्थान से सेवानिवृत्त हैं।यहियागंज इलाके में उनके दो तीन फ्लैट हैं जिनके किराए से परिवार का खर्च चलता है। आठ साल पहले अपनी बेटी अजरीन की शादी सआदतगंज चौपटिया तोप दरवाजा निवासी इरफान से हुई थी। शादी के एक साल बाद इरफान अपने ससुराल में आकर रहने लगा। रऊफ  की पत्नी साबरा के मुताबिक, बुधवार रात नौ बजे इरफान ने अपनी पत्नी अजरीन और साली शामीन से रुपये मांगे। उन्होंने देने से इनकार कर दिया। इस बात से नाराज इरफान ने पास में पड़े एक लोहे की रॉड से दोनों पर हमला कर दिया। गंभीर हालत में परिजन दोनों को पहले ट्रॉमा सेंटर ले कर गए लेकिन वहां भर्ती नहीं कराया जा सका। इसके बाद बलरामपुर लेकर पहुंचे जहां डॉक्टरों ने अजरीन को भर्ती कर लिया। वहीं शामीन को मृत घोषित कर दिया।

अपनी संपत्ति बेच चुका था आरोपी
प्रभारी निरीक्षक विश्वजीत सिंह के मुताबिक, आरोपी इरफान को पुलिस ने पकड़ लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है। शुरुआती पड़ताल में सामने आया कि रुपए मांगने का विरोध करने पर हमला किया गया। जिसमें साली की मौत हो गई और पत्नी की हालत काफी गंभीर है।

प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक, मृतका शामीन की शादी के संबंध में बातचीत चल रही थी। वह आठवीं पास है। फ्लैट का जो भी किराया आता था, वह शामीन के ही पास रहता था। पूरे घर का खर्च का हिसाब किताब भी उसी के पास रहता था। पुलिस के मुताबिक, इरफान अपने हिस्से की पुश्तैनी जमीन बेच चुका था। इसके बाद वह ससुराल में आकर रहने लगा था। कोई काम धंधा नहीं करता था। उसके रिश्तेदार की काकोरी में डेयरी है जिसमें वह केयरटेकर का काम करता था।

Related Articles