कैंसर से लड़ रहा आगरा का बहादुर बेटा अकेले भिड़ा लुटेरों से

आगरा। आगरा का बहादुर बेटा है अमित गुप्‍ता। वह न सिर्फ कैंसर से जंग लड़ रहा है, बल्कि गुरुवार की शाम जब कुछ बदमाश लूट की घटना के बाद भाग रहे थे, तब उसने अकेले दम पर उन्‍हें पकड़ लिया।

आगरा का बहादुर बेटा

आगरा का बहादुर बेटा है अमित

दरअसल, आगरा में आज शाम शाहगंज इलाके के पृथ्वीनाथ मंदिर के पास पल्सर सवार बदमाशों ने सर्राफ को गोली मार दी। सर्राफ की मौके पर ही मौत हो गई। लूट को अंजाम देकर बाइक से भाग रहे तीन में से दो बदमाशों को कैंसर पीडि़त युवक अमित गुप्‍ता ने पकड़ लिया।

पृथ्वीनाथ कॉलोनी में रहने वाले संजय वर्मा की घर से कुछ ही दूरी पर जय शिव ज्वैलर्स नाम से सर्राफ की दुकान है। आज सर्दी अधिक थी, सड़क पर भी सन्नाटा सा हो गया था, इसलिए वे पौने छह बजे ही दुकान बंद कर घर जाने लगे। वे घर के पास पहुंचने वाले ही थे कि पल्सर सवार तीन बदमाशों ने उन्हें घेर लिया।

लूट का विरोध करने पर मारी गोली

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि संजय वर्मा के हाथ से लुटेरों ने बैग छीनना चाहा। संजय वर्मा ने बदमाशों का विरोध शुरू कर दिया। शोरगुल की आवाज सुनकर मौके की ओर भीड़ दौड़ पड़ी। इसके चलते बदमाश घबरा गए। बदमाशों ने एक हवाई फायर किया। भीड़ नहीं रुकी तो बदमाशों ने संजय वर्मा पर फायर कर दिया। संजय वर्मा के सीने में गोली लगी, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

अकेले बदमाशों पर कूद पड़ा

बदमाशों द्वारा फायर किए जाने के बाद कैंसर पीडि़त युवक अमित गुप्‍ता नहीं रुका। उसने बदमाशों से दो-दो हाथ करने की ठान ली और उनके ऊपर अकेले कूद पड़ा। इस बीच आसपास के लोग भी बदमाशों को पकड़ने के लिए दौड़े। बदमाशों ने भागने का प्रयास किया लेकिन अमित की मदद से दो बदमाशों को पकड़ लिया गया, जबकि एक बदमाश पल्सर बाइक से वहां से फरार हो गया। सूचना पर शाहगंज पुलिस मौके पर पहुंच गई। इससे पहले भीड़ ने दोनों बदमाशों की पिटाई की थी। पुलिस ने भीड़ के कब्जे से दोनों बदमाशों को अपने कब्जे में किया। पुलिस उन्हें थाने ले गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button