युवा निशानेबाज़ यशस्विनी सिंह देसवाल ने ISSF विश्व कप में जीता स्वर्ण पदक

0

पंचकुला निवासी 22 साल की युवा निशानेबाज़ यशस्विनी सिंह देसवाल ने ब्राज़ील के रियो डी जेनेरियो में ISF विश्व कप में महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता|  इस जीत के साथ, उन्होंने भारत के लिए एक ओलंपिक कोटा भी हासिल कर लिया है| ये 2020 टोक्यो खेलों के लिए शूटिंग में भारत का नौवां कोटा है| विश्व की नंबर 1 यूक्रेन की ओलेना कोस्तेविच ने  पदक का दावा किया, जबकि सर्बिया की जैस्मिना मिल्वोनोविक ने कांस्य पदक जीता|

इस शानदार प्रदर्शन की बदौलत यशस्विनी 2020 तोक्यो ओलंपिक खेलों के लिये भारत की ओर से कोटा हासिल करने वाले निशानेबाज संजीव राजपूत, अंजुम मौदगिल, अपूर्वी चंदेला, सौरभ चौधरी, अभिषेक वर्मा, दिव्यांश सिंह पंवार, राही सरनोबत और मनु भाकर के साथ शामिल हो गयीं।

यशस्विनी के पिता को 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ में कादरपुर बिग बोर शूटिंग रेंज में पदक समारोह के मुख्य अतिथि के तौर पर बुलाया गया था। उस दौरान 13 साल की यशस्विनी भी साथ थीं। पूर्व आईजी और आईपीएस अधिकारी टीएस ढिल्लों कोच और रेंज इंचार्ज थे। यशस्विनी ने ढिल्लों से शूटिंग करने की इच्छा जताई। ढिल्लों कहते हैं कि पिता ने समझा बेटी वहां से जाने के बाद सब भूल जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

आपको बता दे की इससे पहले काजल सैनी ने महिलाओं की 50 मीटर राइफल थ्री पाजीशन में 1167 के क्वालीफाइंग स्कोर से 22वां और तेजस्विनी सांवत ने 1156 अंक से 47वां स्थान हासिल किया।

loading...
शेयर करें