क्राइम ब्रांच बताकर स्कार्पियों से युवकों ने की तोडफ़ोड, आठ आरोपि हिरासत में

गोरखपुर: गोरखपुर के गुलरिहा के कौलहा खुर्द गांव में अपहृत युवक को ढूंढते पहुंचे स्कार्पियों सवार युवकों ने जमकर उत्पात मचाया। क्राइम ब्रांच से आने की बात कह घर की तलाशी लेने के साथ ही तोडफ़ोड़ की। रमेश यादव के घर दो स्कार्पियों से आठ युवक पहुंचे। गाड़ी से उतरते ही घर में घुसने लगे। रमेश की पत्नी हेमलता ने घर पर किसी के न होने की जानकारी दी तो अपहृत युवक को छिपाने की बात कह कमरे की तलाशी लेने लगे। हेमलता के रोकने पर क्राइम ब्रांच से आने की बात कहते हुए उसके साथ अभद्रता करते हुए तोडफ़ोड़ शुरू कर दी। शोर मचाने पर पहुंचे गांव के लोगों ने युवकों को घेर लिया। घटना की जानकारी होने पर पहुंची गुलरिहा पुलिस सभी को भटहट चौकी ले आई। गुलरिहा पुलिस वाराणसी के रहने वाले सेना के जवान समेत आठ आरोपितों को हिरासत में ले लिया।

जतनपुर के रहने वाले शिवकुमार यादव ने बताया कि उसका छोटा भाई शिवबचन लखनऊ में रहता था। नौकरी दिलाने के नाम पर उसने कई लोगों से रुपये लिए थे। रमेश यादव ने भी उसको रुपये दिए थे। 21 मई 2019 को शिवबचन का लखनऊ से अपहरण हो गया। उसके भाई को रमेश ने अपने घर में छुपाकर रखा हैै। इसलिए अपने साथियों के साथ अपहृत भाई की तलाश में आया था।

पूछताछ में आरोपितों की पहचान वाराणसी, चौबेपुर के जतनपुर निवासी शिवकुमार यादव, रैमला निवासी मोनू यादव, जल्हूपुर निवासी राजू जायसवाल, रुस्तमपुर निवासी  रामबचन यादव, अजाब निवासी शिवजतन यादव, कादीपुर निवासी मोनू यादव, बरथरा गला निवासी राजेश यादव और चित्तमपुर निवासी अरविंद यादव के रूप में हुई। भटहट चौकी प्रभारी विनोद सिंह ने बताया कि शिवकुमार यादव सेना का जवान है। एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता ने बताया कि पुलिस दोनों पक्ष के दावे की जांच कर रही है। साक्ष्य के आधार पर कार्रवाई होगी।

Related Articles