बच्चों के लिए तैयार हुई Zydus Cadila वैक्सीन, सरकार ने तय की कीमत

नई दिल्ली: देश में बच्चों की वैक्सीन का इंतजार अब खत्म होने जा रहा है। केंद्र सरकार ने फार्मा कंपनी Zydus Cadila को कोरोना वायरस वैक्सीन की एक करोड़ खुराक का ऑर्डर दिया है, जिसे 12 साल से ऊपर के बच्चों को दिया जाएगा। इसके साथ ही कंपनी की ओर से भारत में वैक्सीन की कीमत भी तय कर दी गई है।

कंपनी के मुताबिक ZyCoV-D वैक्सीन की एक डोज की कीमत 265 रुपये होगी। इसके अलावा जीएसटी को छोड़कर 93 रुपये में नीडल फ्री एप्लीकेटर का ऑर्डर मिला है। ZyCoV-D दुनिया का पहला प्लास्मिड डीएनए वैक्सीन है, जिसे भारत में उपयोग के लिए स्वीकृत किया गया है।

फार्मा कंपनी द्वारा एक नियामक फाइलिंग में कहा गया है, “ज़ाइडस कैडिला को भारत सरकार से दुनिया की पहली प्लास्मिड डीएनए वैक्सीन, ZyCoV-D की 10 मिलियन खुराक की आपूर्ति करने का आदेश मिला है। प्रत्येक खुराक की कीमत 265 रुपये प्रति और सुई मुक्त होगी। जीएसटी को छोड़कर एप्लीकेटर की कीमत 93 रुपये प्रति डोज होगी।

सरकार से चर्चा कर कीमत तय की

कंपनी ने कहा कि केंद्र सरकार से चर्चा कर कीमत तय की गई है। टीका एक सिरिंज के बजाय एक सुई मुक्त ऐप्लिकेटर के माध्यम से दिया जाएगा। एप्लीकेटर का नाम ‘फार्माजेट’ है। इस एप्लीकेटर से दर्द नहीं होता है और दूसरे तरह के साइड इफेक्ट से भी बचा जा सकता है।

ZyCoV-D के साथ सरकार के टीकाकरण कार्यक्रम

Zydus Cadila के प्रबंध निदेशक शरविल पटेल ने कहा, “हम ZyCoV-D के साथ सरकार के टीकाकरण कार्यक्रम का समर्थन करके खुश हैं। हमें उम्मीद है कि सुई रहित टीकाकरण कई लोगों को टीका लगाने और COVID-19 से बचाव करने में सक्षम बनाएगा, विशेषकर 12 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों और युवाओं को।”

12 साल से अधिक उम्र के

Zydus Cadila का कोरोनावायरस वैक्सीन Zykov-D लगभग 25 डिग्री के तापमान पर 3 महीने तक चल सकता है। कंपनी का दावा है कि इससे वैक्सीन के परिवहन और भंडारण में आसानी होगी। इसके अलावा 12 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण के लिए स्वीकृत यह पहला टीका है। इसकी तीन खुराक 28 दिनों के अंतराल के साथ दी जाएगी।

Related Articles